मेन्यू बंद करे

Blockchain Technology क्या है?

हम सभी ने बहुत बार Blockchain word सुना है लेकिन आज हम इस पोस्ट में जानते है की Blockchain क्या है? आजकल हम मोबाइल फ़ोन से हम किसी से सीधे बात कर सकते है लेकिन हमे इसी फ़ोन से कुछ खरीदना हो तो हमे एक बिचौलिये (third-party) की आवश्यकता होती है, जो seller को guarantee देता है की आपने पैसे दे दिया है| पर क्या ये मुमकिन है की एक seller और buyer आपस में समझौता कर ले बिना किसी third-party के सहायता से| यह मुमकिन हो रहा है Blockchain Technology से| Blockchain एक distributed database होता है जो की एक दो computers पर नही बहुत रे computers पर distributed होता है|

Working Of Blockchain

Blockchain का हर एक computer पुरे history की details रखता है| Blockchain Technology records को encrypted form में store रखता है | Blockchain Technology fault tolerant भी होती है यानि अगर system में कुछ computer ख़राब भी हो जाते है तो तब भी ये system ठीक तरह से काम करता है| और stored data safe रहता है| Blockchain database को हम एक public ledger बोल सकते है जिसमे किसी समझौते या रिकॉर्ड को store करने के लिए कई सारे साझेदारों के permission की आवश्यकता होती है| इसको hack करना बहुत ही मुश्किल है क्युकी इसको hack करने के लिए hacker को एक साथ हजारो लाखो computer को hack करना पड़ेगा, जो की impossible है| इसी वजह से Blockchain technology को एक बहुत सुरक्षित technology मन जाता है |

Blockchain का सबसे पहले प्रयोग 2008 में हुआ था जब Bitcoin digital currency का अविष्कार हुआ था| Bitcoin किसी देश, सरकार या बैंक द्वारा नियंत्रित मुद्रा नहीं है| यह एक digital currency है|

Blockchain Technology का प्रयोग

Blockchain का प्रयोग केवल currency और transaction में ही नहीं Blockchain का प्रयोग कही भी हो सकता है, जहा पर traditional तरीके से guarantee, विश्वास और भरोसे के लिए किसी third-party की जरुरत होती है| जैसे वे सभी transaction जिनको नोटरी public या किसी govt. एजेंसी को पुष्टि करनी पड़ती है|

मान लिया जाये की आप एक मकान खरीद रहे है आप चाहेंगे की इस transaction को सरकारी registrar के यह register किया जाये, ताकि आपको एक सरकारी दस्तावेज मिले जो यह साबित करे की आप उस मकान के कानूनन मालिक है| public रजिस्ट्रार केवल इस सौदे का एक सबूत दे रहा है, और ऐसी सम्भावना है की future में public रजिस्ट्रार की जगह Blockchain Technology कर दे | क्यूकी उसमे store transaction की उतनी ही प्रमाणिकता होगी जितना public registrar की| Blockchain public होने की वजह से इसमें fraud होने की सम्भावना नही होती है|

Blockchain technology के उपयोग के कई और संभावित उदाहरण है जैसे किसी सरकारी योजना के अंतर्गत किसी आदमी को पैसा मिलना है तो अलग अलग government office के बजाय सीधा उस आदमी के मोबाइल फ़ोन में पैसे भेजे जा सकते है| या किसी natural disaster के वजह से नुकसान की भरपाई करनी हो तो उनकी सहायता राशि सीधे उनके मोबाइल फ़ोन पर भेजी जा सकती है इससे corruption पर बहुत हद तक लगाम लगाई जा सकती है|

Blockchain in Education

Education system में भी Blockchain Technology का प्रयोग किया जा सकता है| Paper degree के बदले students को Blockchain based degree provide की जा सकती है, इससे fake degree की समस्या का समाधान हो सकता है|

Conclusion

Blockchain Technology 21वी सताब्दी की economics में बहुत बड़ा परिवर्तन ला सकता है| और भी पोस्ट पढने के लिए आप हमारे ब्लॉग को विजिट कर सकते है –

#GeeksPartner

Posted in Technology

6 Comments

Leave a Reply